best friends success story दो दोस्तो की सक्सेस कहानी ?

friendship never give up (अच्छे दोस्त कभी हार नहीं मानते)

Two best friends (दो सबसे अच्छे दोस्त)

एक बार एक गाँव में गौरव और शिवम् नाम के दो सबसे अच्छे दोस्त (like-best friends) रहते थे | वे ज्यादातर समय एक पेड़ के नीचे आराम करने और यह सोचने में बिताते थे, कि उन्हें अपने जीवन में क्या करना चाहिए।

इसी तरह सोचने में वे पहले ही अपना बहुत सारा कीमती समय गंवा चुके थे।

Two boys are the best friends. 
good friend
Two boys are the best friends.

they are have a idea

तो, एक दिन उन्होंने देखा कि गाँव की औरतें पैदल चलकर गांव से दूर नदी से बर्तनों में पानी भरकर लाती थीं । क्योंकि नदी गांव से बहुत दूर थी | इसलिए वे कितने भी चक्कर लगा लें, पर उतना पानी उनके परिवार की दैनिक जरूरतों के लिए पर्याप्त नहीं होता था।

यह सब देखकर अब, उनको एक विचार आया । और वे गांव गए और गांव के लोगों से बोला कि हम दो बहुत अच्छे दोस्त है। अगर आप लोग चाहो तो हम दोनों दोस्त नदी से पानी भरकर आपके घर तक पहुंचा देंगे| बदले में आप हमें प्रति बर्तन पानी का ₹25 दें देना।

how the permission was approved ? (अनुमति कैसे स्वीकृत की गई?)

गौरव और शिवम का यह प्रस्ताव सभी को पसंद आया| क्योंकि अब गांव के घर की औरतों को इतना दूर जाने की जरूरत नहीं है| और घर बैठे बैठे पानी भी मिल जाएगा अब गौरव और शिवम् का यह व्यवसाय धीरे धीरे बहुत तेजी से बढ़ रहा था| वे रोजाना 50 से 100 चक्कर लगाने लगे।

अब गौरव और शिवम् 10 साल तक लगातार काम करने से वे दोनो दोस्त करीबी गांवों में सबसे अमीर हो गए थे। लेकिन तभी एक गौरव को एहसास हुआ कि उन्हें कुछ अलग करने की जरूरत है, क्युकी अभी तो वे स्वस्थ और युवा हैं लेकिन वे हमेशा के लिए ऐसे नहीं रहेंगे, फिर हमारे परिवार का क्या होगा।

तो उसने अपने दूसरे दोस्त शिवम् को इस बारे में बताया, लेकिन दूसरे ने कहा कि भूल जाओ, कुछ भी बुरा नहीं होने वाला है। इस समय का आनंद लें, हम बहुत अच्छा कर रहे हैं।

Gaurav thinks creatively but second best friends rejects every idea?गौरव रचनात्मक सोचता है लेकिन दूसरा दोस्त हर विचार को खारिज कर देता है?

लेकिन गौरव फिर भी विकल्प खोजने लगा। कुछ दिनों बाद, एक पड़ोसी गाँव में, उसने एक कुम्हार को बर्तन बनाते हुए देखा और एक लंबी संकरी गर्दन वाला एक बर्तन देखा। उसने सोचा कि क्या होगा अगर हम मिट्टी का एक बड़ा लंबा पाइप बनाकर नदी से गांव तक ला दें।

शिवम् ने कहा कि यह कभी काम नहीं करेगा, मिट्टी का पाइप, यह वास्तव में एक बुरा विचार है। शिवम् ने हजारों कारण बताए कि यह काम नहीं करेगा लेकिन गौरव इसको फिर भी आजमाना चाहता था। निर्माण शुरू हुआ और शुरू से ही, काम में बहुत सारी समस्याएं आईं, पाइप कई बार टूट गया और फिर से नए पाइप से काम करते रहे ।

best friends never give up
best of friends-never gonna give you up
best friends never give up work img

इसलिए शिवम् खर्चे को देखते हुए उसको छोड़ कर चला गया, लेकिन धीरे-धीरे ही सही आखिरकार 6 से 7 महीने बाद, पाइप सही से लगा दिया और इस तरह से गांव तक पानी आने लगा।

अब, वह प्रति दिन हजारों बर्तनो को पानी से भर सकता था, इस प्रकार प्रति बर्तन पानी की दर 25₹ से घटाकर 10₹ प्रति बर्तन कर दिया क्युकी उसे कही जाने की जरूरत नही थी।

इस तरह से उसकी आय बढ़ने लगी क्योंकि अब हर दिन हजारों बर्तन पानी कम दाम पर पहुंचा देता था और शिवम् अब बेरोजगार हो गया।

लेकिन गौरव और शिवम बहुत अच्छे मित्र(best friend) थे इसलिए गौरव ने शिवम् को फिर से अपने काम में शामिल कर लिया
अतः गौरव ने अपने मित्र शिवम् का बुरे समय में उसका साथ नहीं छोड़ा |


जिसके पास एक अच्छा दोस्त है उसे किसी भी दर्पण की जरूरत नहीं है।

never give up quotes

यह भी पढ़े-

कहानी का मोरल:

  • दोस्तों इस कहानी से हमें ये शीख मिलती है कि अपने अच्छे मित्र की ख़ुशी में शामिल हो ना हो पर बुरे समय में अवश्य साथ दें |
  • असफल होने से मत डरो, कोशिश न करने से डरो। कुछ नहीं करेंगे तो कुछ नहीं मिलेगा। लेकिन अगर आप कुछ करने की कोशिश करोगे तो 50% संभावना है, कि आप असफल हो जाओ या आप सफल हो जाओ।
  • लेकिन 50% उम्मीद है और अगर कोशिश नहीं करोगे तो सफल होने की संभावना बिल्कुल 0% है। अब आप ही तय करें कि आप कौनसे दोस्त हैं
  • ऐ मेरे दोस्त कबी तुजे सच्चा दोस्त मिले तो उसका कभी भी साथ मत छोड़ना क्योकि सच्चा दोस्त दबाई की तरह कड़वा जरूर हो सकता हे पर दवाई का परिणाम हमारी सेहत के लिए अच्छा होता है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to Top