The Magic of Thinking big Hindi Book summary

दोस्तों नमस्कार आज हम द मैजिक ऑफ़ थिंकिंग बिग की समरी कम्पलीट करने वाले है | तो चलिए दोस्तो शुरु करते है |

1. विश्वास करें कि आप सफल हो सकते हैं और आप सफल हो जाएंगे 

हर इंसान के जीवन में लक्ष्य होते हैं फिर वो चाहे weekend से पहले garage को साफ़ करने जितना छोटा लक्ष्य हो या फिर 10 साल में 10  लाख रुपए जमा करने जितना बड़ा  लक्ष्य हो।

जब आप अपने लक्ष्य की ओर बढ़ने के लिए तैयार होंगे तो यह सवाल आपको हैरान करेगा कि “मैं शुरू कैसे करुँ?”

इस चुनौतीपूर्ण सवाल से छुटकारा पाने के लिए आप को खुद पर विश्वास करना शुरू करना होगा। इसका अर्थ यह है कि आपको अपना mindset कुछ इस तरीके से करना होगा कि आप १०० प्रतिशत हर वो काम कर सकते है जो आप करने की ठान लेते हैं।

यह तरीका काम करता है क्योकि अगर आप यह विश्वास करना शुरू कर दें कि आप कुछ भी हासिल कर सकते हैं तो आपके अंदर creative powers आ जाती है जो आपको अपने लक्ष्यों को पूरा करने में मदद करती है।

जितना ज़्यादा आप खुद में विश्वास करेंगे,  उतनी ही ज्यादा आपकी creative power बढ़ेगी। इसका मतलब यह है कि अपनी अपनी कंपनी का vice president बनने जितना कठिन लक्ष्य भी आप आसानी से हासिल कर लेंगे ।

खुद पर विश्वास करने का सबसे बड़ा फायदा ये भी है कि जब आप खुद पर विश्वास करते हैं तो दूसरे लोग भी आप पर विश्वास करने लगते हैं।

इस विश्वास या इच्छा को ही सभी social leaders’ सफलता के साथ जोड़ते हैं। चाहे जीवन में कितनी भी समस्याऐ आयें, यही विश्वास लोगों को motivated रखता है । यही एक सबसे अच्छी Quality है जो किसी भी candidate को Perfect बनाती है क्योकि इसका मतलब है कि वो कभी भी हार नहीं मानता।

2. बहाना साइटिस का इलाज कराएं,  यह असफलता की बीमारी है

इस best statement पर सभी की अपनी अलग-अलग राय है कि “दुनिया में दो तरह के लोग हैं ।। सफल लोग और असफल लोग। एक वे जो अपनी वास्तविक क्षमता को पहचानने में असफल हों गए हैं और  दूसरे वे जिन्होंने अपने करियर या life style में खुद को सफल बनाया है।

आखिर सफल लोगों के बारे में ऐसा क्या है जो उन्हें असफल होने से रोकता है?

यह  असफल होने के  बावजूद उनकी  हार ना मानने की क्षमता है। जहाँ असफल  लोग अपनी असफलताओं के बहाने खोजने में व्यस्त रहते हैं, वहीँ सफल लोग सफलता के नए रास्ते खोजने में व्यस्त  रहते हैं।

अंततः हर सफल इंसान के सामने भी उसी तरह की  चुनौतियां आती हैं  जिस तरह एक असफल  इंसान के सामने आती है । पर उन चुनौतियों  का सामना वह जिस तरह करता है वो उसे सफल बना देता है।

उदाहरण के लिए इस कहानी पर विचार करें कि सफल लोग कैसे creative बनते हैं :

एक युवा couple एक घर खरीदना चाहता था लेकिन पता चला कि वे down payment का खर्च उठाने में असमर्थ थे। ऐसे में कई  लोग जब अपना सपना छोड़ देते या बहाना  बनाते, इस जोड़े ने creative रूप से सोचने का फैसला किया।

पति ने घर के builder से संपर्क किया और शुरुआती payment को cover करने के लिए एक personal loan मांगा। 100 $ monthly loan के भुगतान का खर्च उठाने के लिए,  इस couple ने हर महीने खर्चे में से 25 डॉलर कम खर्च करने का फैसला किया, और पति ने अतिरिक्त 75 डॉलर बनाने के लिए अपने boss को weekend पर extra घंटे काम करने के लिए मना लिया। क्योकि उसमे एक सफल इंसान के गुण मौजूद थे तो उसने वह घर खरीद लिया ।

3. विश्वास जगाएं, डर भगाए 

लोगों को अक्सर यह सलाह दिया जाता है कि “डर बस आपके मन में है” ताकि वे  अनजाने probelms से बाहर आ सके और आगे बढ़ सके।

लेकिन सच  ये है कि डर का अस्तित्व सच में है। और यह आपका नंबर 1 दुश्मन बन सकता है जो आपको वह काम करने से रोकता है जो आप करना चाहते हैं।

जैसे कि एक सामान्य भय है दूसरे लोगों का डर। इस डर के कारण आप यह भूल जाते है कि दूसरे भी आपके जैसे इंसान हैं। कोई “superman” या “superwoman” नहीं हैं – हर कोई मौलिक रूप से सभी के समान है। फिर भी, यह डर, अगर ऐसे ही छोड़ दिया जाता है, तो आपकी सफलता पर इसका भयानक प्रभाव पड़ सकता है।

भले ही आप किसी भी तरह के डर का सामना कर रहे हों- उन सब की एक ही दवा है- confidence यानी आत्मविश्वास।

यह समझे कि confidence, एक immune system है जो आपको  डर से बचा कर रखता है। आपका आत्मविश्वास जितना मजबूत होगा, उतना ही  आपके ऊपर डर का कम प्रभाव पड़ेगा।

Confidence  बढ़ाने का सबसे अच्छा तरीका क्या है? Confidence से काम करें – भले ही आप इसे महसूस न कर रहें हों। पहले तो इसे बनाए रखना मुश्किल होगा, लेकिन समय के साथ यह natural हो जाएगा।
कक्षाओं या presentations के दौरान सामने की row में बैठना, अन्य लोगों के साथ आँखें मिला कर बात करना, और सामान्य से 25 प्रतिशत तेजी से चलना- यह सभी चीजें confidence को बढ़ाने में मदद करती हैं ।

4. बड़ा कैसे सोचे? 

हमारा दिमाग  शब्दों में नहीं सोचता बल्कि images या चित्रों में सोचता है।  हम जो भी बोलते हैं हमारा दिमाग  उसकी एक image  बना लेता है । जैसे कि यदि आप कहें  “लाल सेब”  तो  हमारे दिमाग में  लाल सेब की एक image  बन जाती है।
लेकिन यह इतना महत्वपूर्ण क्यों है?
वास्तव में,  इसका मतलब है कि हमें अपने शब्दों को बड़े ही ध्यान से चुनना चाहिए।
उदाहरण के लिए यदि आप “problem” शब्द को सुनते हैं तो आपके दिमाग में  समस्या,  मुसीबत  और कठिनाई  जैसे शब्दों की  एक image  बन जाती है।
लेकिन वही अगर आप “challenge” शब्द को सुनते हैं तो आपके दिमाग में मजेदार,  रोमांचक  और सुखद तस्वीरें बनती है।
शब्दों में बहुत ताकत होती है इसलिए  बड़े, साहसी और  उत्साहपूर्ण शब्दों का प्रयोग करें,  जिससे आपके अंदर positive  भावनाएं जागे और आप  बड़ा सोच सकें ।

5. रचनात्मक तरीके से कैसे सोचे और सपने देखें

आपने यह वाक्य सुना ही होगा “ज्ञान ही शक्ति है”, इसका मतलब यह है कि जितना अधिक हम जानते है उतना ही अधिक हम कर सकते हैं। लेकिन यह परिभाषा दो प्रकार के ज्ञान में अंतर करने में असफल रहती है- Fact Memorization और Creative Thinking।

Fact memorization के साथ आप जानकारी को याद करने के लिए अपने दिमाग में जमा कर लेते हैं परन्तु ये जमा facts किसी कूड़े  में पड़े पुराने बक्सों की तरह पड़े रह जाते हैं । आप उसका उपयोग तभी करते हैं जब आपको उस बक्से के अंदर की चीज़ की ज़रूरत हो |

दूसरी ओर creative thinking नए समाधान खोजने पर केंद्रित रहता है। इसका मतलब किसी भी तरह की समस्या या चुनौती से निपटने के लिए नए और बेहतर तरीकों को तैयार करना।

हालांकि तथ्यों को याद रखना अपने आप में important है लेकिन creative thinking हमे किसी भी बाधा या मुश्किल को जल्द से जल्द और कुशलता से पार करने की क्षमता देती है।

सफल लोग हमेशा facts को याद रखने की बजाये, अपनी creative thinking को बेहतर बनाने में ध्यान लगाते हैं।

आप इन तीन तरीकों से अपने creative thinking  को बढ़ा सकते हैं: नए विचारों को accept करें, नयी चीज़ों को आजमाने के लिए ज्यादा से ज़्यादा समय ले, और हर सुबह दस मिनट का समय इस सवाल पर विचार करने के लिए  लगाएं कि, “मैं आज बेहतर काम कैसे कर सकता हूँ?”

6. जैसा सोचेंगे वैसा बनेंगे 

आज के समाज में negativity हर जगह है- समाचारों में बताई गयी हत्याओं से लेकर advertisements तक, जो हमे मोटा या बदसूरत महसूस कराने की कोशिश करते हैं। लेकिन केवल ये media ही negative नहीं। यहाँ तक के हमारे सबसे करीबी लोग भी अक्सर कहते है “तुम यह नहीं कर सकते इसलिए तुम कोशिश भी मत करना”। मिसाल के तौर पर कल्पना कीजिये–आपके सबसे करीब दोस्त भी आपके अपनी कंपनी का प्रेसिडेंट बनने के सपने को लेकर आपका मज़ाक उड़ाते हैं।

कुछ समय बाद हम इस negative सोच के इतने आदी हो जाते है कि हमे ये सब normal लगने लगता है। हमारे negative विचार मानसिक राक्षसों की तरह काम करते हैं, जितना हम इन्हे अपने मन के अंदर जाने देते हैं, ये उतने ही मजबूत होते जाते हैं, जब तक कि वे हमारी positive सोच पर पूरी तरह से हावी नहीं हो जाते। परन्तु सच ये है के negative सोच हमारे लिए बिल्कुल भी अच्छी नहीं है। असल में, यह उन मुख्य चीजों में से एक है जो लोगों को सफल बनने से रोकती है। यही कारण है कि “यह नहीं किया जा सकता है” कहने वाले लोग लगभग हमेशा असफल या average होते हैं। स्पष्ट रूप से, अपने सपनों को पूरा करने के लिए इस negativity से छुटकारा पाना ज़रूरी है।

ऐसा करने के लिए, हर दिन positive तरीके से सोचना और काम करना शुरू करें। यह आपके दिमाग में negativity को जगह ना देकर, उसे दिमाग से निकालने में मदद करेगा।

ऐसा करने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि आप अपने लिए एक विज्ञापन लिखें,  “खुद-से-खुद को बेचने का विज्ञापन” । जिसमें आप खुद को अपने सबसे अच्छे गुणों की याद दिलाते हैं और कैसे वे आपको बाकी सभी से अलग करते हैं।

इस विज्ञापन को दिन में एक बार अकेले में ज़ोर से पढ़ें और चुपचाप से दिन में कई बार पढ़ें। जल्द ही आप अपने आप पर इतना विश्वास करने लगेंगे कि बाहरी दुनिया की negativity आप से ऐसे दूर हो जाएगी जैसे छतरी से बारिश से दूर  हो जाती 

7. अपने माहौल को सुधारें,  फर्स्ट क्लास बने 

आप शायद इस वाक्य से परिचित हैं “आप वहीँ होते है जो आप खाते हैं” जिसका मतलब है कि अगर आप एक Healthy शारीर चाहते हैं तो आपको healthy भोजन खाना चाहिए। यही विचार आपकी मानसिकता पर भी लागू होता है ।  आपके रहने का स्थान, आपके दोस्त, आप जो सोचते हैं, आप जो पढ़ते हैं – ये सभी “मन के भोजन” के रूप में कार्य करते हैं और आपकी Thinking processes को प्रभावित करने में  महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

उदाहरण के लिए, गपशप करने वाले लोगों के साथ लंबे समय तक संबंध बनाने से आपके गपशप करने की संभावना अधिक होगी। इसके विपरीत, यदि आप ऐसे लोगों के साथ संबंध बनाते हैं जो केवल दूसरों की सकारात्मक  गुणों की बात करते हैं,  तो आप भी वैसे ही बन जाएंगे।

जैसे आपके  साथी होते हैं आप वैसे ही बन जाते हैं । इसलिए, सफल बनने के लिए वो करें जो सफल लोग करते हैं- खुद कि लिए एक high-quality वातावरण का निर्माण करें। यह सुनिश्चित करके करें कि आपका घर, Study area, work area, social circle और खाली समय सभी उच्चतम Quality के हैं, जिसका अर्थ है कि वे आपको एक व्यक्ति के रूप में विकसित होने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।

इसको करने का एक तरीका यह भी है कि आप सफल लोगों के आसपास रहे और उनके बारे में पढ़ें। जब आपके दिमाग में कोई प्रश्न हो या आप कोई सलाह लेना चाहते हो तो हमेशा उन्ही लोगों से सलाह ले, जो वहाँ पहले से हैं जहाँ आप पहुँचना चाहते हैं। आखिरकार, top  class  Professionals ही top  class सलाह दे सकते हैं।

8. अपने विचारों को अपना दोस्त  बनाएं 

कभी-कभी जब आप किसी दोस्त या करीबी व्यक्ति के साथ बात कर रहे होते हैं, तो भले ही वे इसके बारे में बात न करना चाहें लेकिन आप बता सकते हैं कि वे कब uncomfortable या  बुरा महसूस कर रहे हैं।
हम इसका पता लगाने में इतने अच्छे कैसे हैं? क्योंकि लाखों सालों तक, हमारे पूर्वजों की कोई भाषा नहीं थी।  बातचीत शरीर और चेहरे के भावों को समझने पर  निर्भर करता था, शब्दों और वाक्यों पर नहीं। हम दूसरों के Attitudes को पढ़ सकते हैं क्योंकि अतीत में इस योग्यता ने हमारे पूर्वजों को जीवित रखने में मदद की थी।

Attitude मन का दर्पण हैं। एक negative attitude वाले व्यक्ति को positive attitude वाले व्यक्ति से अलग reaction मिलेगा। अगर आपको किसी व्यक्ति से मिलने के अच्छे परिणाम चाहिए तो आपको positivity से भरे attitude को अपनाने की ज़रूरत है।

Positive attitude रखने का एक तरीका यह है कि आपको यह ध्यान में रखना है कि आप जो कर रहे हैं वह नैतिक रूप से सही है। जब लोग ऐसी चीज़ें करते हैं जिनके बारे में खुद को अच्छा feel नहीं होता- जैसे किसी महत्वपूर्ण व्यक्ति से झूठ बोलना या किसी  दोस्त का फायदा उठाना – यह आपके अंदर guilt  को   जन्म देता है और  आपके विश्वास को नष्ट करता है। दूसरी ओर, अपने decision से खुश और comfortable होना, आपके अंदर अधिक आत्मविश्वास का निर्माण करता है और आपके mood को  बेहतर बनाता है।

दूसरी तरफ, एक positive attitude को अपनाने का  एक और तरीका यह है कि आप सर्वश्रेष्ठ दिखें। जब आप अच्छी तरह से कपड़े पहनते हैं, तो यह आपको महत्वपूर्ण महसूस कराता है और दूसरों को  भी लगता है कि आप  महत्वपूर्ण हैं। इसे हर जगह करने की कोशिश करें, यहाँ  तक की  अपने रोजमर्रा के जीवन में भी इसे  अपनाएं।

9. लोगों के बारे में अच्छा सोचे 

क्या आपके किसी सहकर्मी ने कभी बिना किसी कारण आपके साथ बुरा बर्ताव किया है? स्वाभाविक रूप से आपका पहला reaction यही होगा कि आप उस इंसान को गुस्से वाला या पागल किस्म का समझेंगे।

हालांकि आप ये भूल गए कि वो भी आप ही की तरह इंसान है- और संभावना है कि वो केवल आपके खिलाफ react कर रहा है क्योंकि वो अपने जीवन में किसी और चीज से पीड़ित है।

यह सब जानने के बाद आप उससे उसी तरह व्यवहार करते है जैसा व्यवहार  आप अपने लिए चाहते हैं यानी कि एक important  व्यक्ति की तरह।  तो आप देखेंगे कि वे आपके लिए बुरा बर्ताव बंद कर देंगे और आपके बारे में सोचना शुरू कर देंगे और आप से अच्छी तरह से व्यवहार करेंगे।

आप अनुभव करेंगे कि आप जब ऊँचाइयाँ हासिल करेंगे तो ये लोग आपका support बनकर आपके साथ रहेंगे। उनका साथ आपकी सफलता कि लिए क्यों important है?

क्योकि एक अकेले व्यक्ति  के लिए बड़ी सफलता प्राप्त करने के लिए बिना support के खुद को ऊपर खींचना मुश्किल है। आमतौर पर, आप अपने सामान और अधीन लोगों की मदद से ही ऊपर उठते हैं जो आपके आसपास रहते हैं।

हमेशा याद रखें कि कोई भी अपने दम पर सफल नहीं बनता। यही कारण है कि जब भी आपकी किसी से मुलाकात हो तो आप ये समझे कि यही वो  व्यक्ति है जो आपके Career को  बना सकता है  या बिगाड़ सकता है।

 10. काम में जूटने की आदत डालें

यदि आप ऐसे व्यक्ति हैं जिसे पता है कि अपने जीवन में क्या करना है  तो उस realization तक पहुँचना काफी रोमांचक रहा होगा। लेकिन सफलता की राह का, यह सबसे आसान हिस्सा है।

लक्ष्यों को बनाना आसान है लेकिन बिना कार्य किये सभी लक्ष्य बेकार हैं। किसी भी कार्य को करने से पहले आपको एक प्लान बनाने की ज़रुरत है जिससे आप अपने लक्ष्य को हक़ीक़त में बदल सकें।

सफल लोगों के व्यवहार और तकनीकों पर अपनी योजना का आधार बनाएं। अपने ideal person या आदर्श   व्यक्ति को देखें और खुद से सवाल करें कि उन्होंने ये कैसे किया?

 11) हार को जीत में कैसे बदले

आमतौर पर डॉक्टर किसी की मौत के कारण को बेहतर ढंग से समझने के लिए dead body का परीक्षण करते हैं, और civil aviation administration विमान दुर्घटना स्थलों का अध्ययन करता है ताकि यह पता लगाया जा सके कि क्या गलत है। ऐसा इसलिए है क्योंकि किसी समस्या या आपदा के कारण का अध्ययन हमें सिखाता है कि भविष्य में इन चीजों से कैसे बचा जाए।

एक असफलता या हार का सामना करने के बाद,  हमें कभी भी हिम्मत नहीं हारनी चाहिए और अपनी ऊर्जा को ख़त्म नहीं करना चाहिए। केवल इसी सवाल का जवाब देने के लिए  अपनी ऊर्जा का इस्तेमाल  करें कि “मैं अपने आप को अगले अवसर के  लिए अधिक योग्य बनाने के लिए क्या कर सकता हूं?”

इसलिए अपने लक्ष्यों तक पहुंचने के लिए, पहले यह सुनिश्चित करें कि आपके पास एक अच्छी योजना हो। हालांकि,  यह याद रखें कि कोई भी योजना असफलताओं के बिना सफल नहीं होती है। जब  भी आप असफल हों  तो उसका विश्लेषण  करें । इस तरह से आप सुनिश्चित करते हैं कि आप सफलता की राह पर पहले से ज्यादा मजबूती के साथ आगे बढ़ेंगे।

12) लक्ष्य बनाएं,  सफल बने :

जब तक आप कोई लक्ष्य नहीं बनाते,  तब तक आप एक भी कदम आगे नहीं बढ़ा सकते। लक्ष्य के बिना लोग बस अपने जीवन में इधर-उधर भटकते रहते हैं। वह बस जीवन भर ठोकर खाते रहते हैं,  वे जीवन में कहीं नहीं पहुंच पाते क्योंकि  असल में उन्हें पता ही नहीं  होता कि उन्हें जाना कहां है।
सफलता पाने के लिए लक्ष्य उतना ही जरूरी है जितना की जीवित रहने के लिए हवा जरूरी है। अब तक कोई भी बिना किसी लक्ष्य के सफल नहीं हो पाया है। इसलिए अपने लिए एक निश्चित लक्ष्य बनाएं और यह तय करें कि आपको  क्या करना है। जब आपके पास निश्चित लक्ष्य होता है तब आप आसानी से यह तय कर सकते है कि  आप अपने लक्ष्य के समीप जा रहे हैं या उससे दूर जा रहे हैं।

13)  सोचे तो लीडर की तरह :

आपकी बाहरी दुनिया आपकी भीतरी  स्थिति का एक  प्रतिबिंब है। यदि आप अपने आप को  एक confident  तथा positive इंसान के रूप में  व्यक्त नहीं करते  तो दुनिया आपको कभी भी महत्व नहीं देगी।
प्रगति का विचार करें, प्रगति में विश्वास करें और प्रगति के लिए आगे बढ़े। आप जो भी करते हैं उसमें यह सोचे कि आप इसमें और सुधार कैसे कर सकते हैं। हमेशा  अपना और अपनी सोच का standard  ऊंचा रखें। ज्यादातर employee  या कर्मचारी  अपने boss  के कार्बन कॉपी होते हैं।   इसलिए यह सुनिश्चित करें  की master copy इस लायक हो की  इसे copy  किया जा सके।  यह संकल्प करें कि  ये  आप के घर,  ऑफिस,  या समाज में  कोई भी चीज  बेहतर करने  या प्रगति करने योग्य है तो आप हमेशा इस चीज के लिए तैयार रहेंगे।

दोस्तों इस ब्लॉग के अंत में हम कुछ महत्वपूर्ण बातो को दोहरा लेते है :

  • यदि आपको विश्वास है के आप अपने लक्ष्यों को पूरा कर सकते हैं, तो दूसरे भी आप पर विश्वास और भरोसा करना शुरू कर देते हैं।
  • सफल लोग हमेशा facts को याद रखने की बजाये, अपनी creative thinking को बेहतर बनाने में ध्यान लगाते हैं।
  • हर दिन positive सोच रख कर और positive काम करके सभी negative विचारों को दूर करें।
  • कोई भी इंसान अपने आप में आत्मनिर्भर नहीं होता। सफलता दूसरों के समर्थन पर निर्भर करती है, इसलिए हर किसी के साथ सम्मान के साथ व्यवहार करें।
  • अपने आत्मविश्वास  को बढ़ाकर सफलता के नंबर 1 दुश्मन- भय को नष्ट करें
  • असफल लोग बहाने खोजने के लिए उत्सुक रहते हैं कि वे क्यों असफल होते हैं, जबकि सफल लोग फिर से प्रयास करने के तरीके खोजने के लिए उत्सुक  रहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to Top